Spacer
 
Spacer
  Business.gov.in Indian Business Portal
An Initiative of India.gov.in
 
 
तीव्र मीनू

व्‍यापार आरंभ करना
spacer
starting a Business व्‍यापार का सृजन करना
starting a Business उत्‍पाद का चयन करना
starting a Business आधारभूत मूल संरचना की स्‍थापना करना
starting a Business व्‍यापार का नामकरण और पंजीकरण करना
starting a Business व्‍यापार संगठन का चयन करना
starting a Business उद्योग के स्‍थान का चयन करना
starting a Business अपने उत्पाद का मूल्य निर्धारण करना
starting a Business विनियामक अपेक्षाएं
starting a Business व्‍यापार की शुरूआत में वित्त पोषण
starting a Business सोर्सिंग प्रक्रिया, कच्‍ची सामग्री मशीनरी और उपस्‍कर
starting a Business मानव संसाधन किराए पर लेना
   
 
starting a Business
Starting a Business
 
व्‍यापारी उद्यम एक आर्थिक संस्‍था है, जो लाभ कमाने और धन अर्जन करने के लिए माल और सेवाओं के उत्‍पादन और/या वितरण में लगी हुई है। व्‍यापार की सम्‍भावना बहुत व्‍यापक है। इसमें बड़ी संख्‍या में क्रियाकलाप शामिल हैं जिन्‍हें मोटे तौर पर दो विस्‍तृत श्रेणियों में वर्गीकृत किया जा सकता है अर्थात उद्योग एवं वाणिज्‍य/माल उत्‍पादन उद्योग का क्षेत्र है और वितरण वाणिज्‍य के अंतर्गत आता है। प्रत्‍येक उद्यमी का लक्ष्‍य एक व्‍यापार शुरू करना और इसे सफल उद्यम बनाना होता है। ''उद्यमी'' शब्‍द का अभिप्राय अवसर का लाभ उठाना और अनुशीलन करना और अभिनव परिवर्तन द्वारा जनता की आवश्‍यकताओं और जरूरतों को पूरा करना। वह आदमी, सामग्रियों और धन के रूप में संसाधनों में अभिनव परिवर्तन करता/करती और संसाधनों को मिलाता और उन्‍हें उद्यम व्‍यापार को फायदेमंद बनाने के निमित्त एक साथ मिलाता है। वह जोखिम उठाने और चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार रहता/रहती है। इस प्रकार से अच्‍छे उद्यम के लिए अभिनव परिवर्तन और जोखिम दो मूल तत्‍व हैं। व्‍यापार शुरू करने की तमाम प्रक्रिया व्‍यापार योजना लिखने से शुरू होती है। अच्‍छी व्‍यापार योजना सफल व्‍यापार की स्‍थापना करने की कुंजी है। एक बार जब योजना तैयार कर ली जाती है, तो योजना क्रियान्वित करते समय उद्यमी विभिन्‍न चुनौतियों का सामना करता है। निम्‍नलिखित के संबंध में उसको महत्‍वपूर्ण निर्णय लेने हैं.

उद्योग आयुक्‍तालय या निदेशालय विभिन्‍न राज्‍यों में नोडल एजेंसियाँ हैं जो संबंधित राज्‍यों में औद्योगिक यूनिट स्‍थापित करने में उद्यमियों की सहायता और उनका मार्गदर्शन करते हैं। वे उद्योग निवेशों के लिए उद्योग और अन्‍य एजेंसियों के बीच अन्‍तरापृष्‍ठ प्रदान करते हैं और उद्यमी को एक ही जगह एक ही केन्‍द्र से विभिन्‍न विभागों में अनुमोदन और मंजूरी प्राप्‍त करने में समर्थ बनाते हैं। वे पात्र औद्योगिक उपक्रमों के लिए प्रोत्‍साहन स्‍वीकृत करते एवं औद्योगिक यूनिटों के लिए विरल कच्‍ची सामग्री के आबंटन की पारदर्शी और स्‍वचलित प्रणाली का सृजन करते हैं। इसलिए एक नए उद्यमी को व्‍यापारी कम्‍पनी स्‍थापित करते समय संबंधित आयुक्‍तालय से सम्‍पर्क करना होता है।

^ ऊपर

 
 
Government of India
spacer
 
 
Business Business Business
 
  खोजें
 
Business Business Business
 
Business Business Business
 
मैं कैसे करूँ
Business कम्‍पनी पंजीकरण करूं
Business नियोक्‍ता के रूप में पंजीकरण करें
Business केन्‍द्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) में शिकायत भरें
Business टैन कार्ड के लिए आवेदन करें
Business आयकर विवरणी भरें
 
Business Business Business
 
Business Business Business
 
  हमें सुधार करने में सहायता दें
Business.gov.in
हमें बताएं कि आप और क्‍या देखना चाहते हैं।
 
Business Business Business
Business
Business Business Business
 
निविदाएं
नवीनतम शासकीय निविदाओं को देखें और पहुंचें...
 
Business Business Business
Business
Business Business Business
 
 
पेटेंट के बारे में जानकारी
Business
कॉपीराइट
Business
पेटेंट प्रपत्र
Business
अभिकल्पन हेतु प्रपत्र
 
 
Business Business Business
 
 
 
Spacer
Spacer
Business.gov.in  
 
Spacer
Spacer