सरकार

यह पृष्‍ठ अंग्रेजी में (बाहरी वेबसाइट जो एक नई विंडों में खुलती हैं)

गृह कल्याण केंद्र (जीकेके)

केंद्र सरकार देश भर में बड़ी संख्या में फैले अपने कर्मचारियों के कल्याण का ध्यान रखती है। भारत सरकार का कार्मिक, लोक शिकायत तथा पेंशन मंत्रालय (बाहरी वेबसाइट जो एक नई विंडों में खुलती हैं) का कल्याण विभाग (बाहरी वेबसाइट जो एक नई विंडों में खुलती हैं) कर्मचारी कल्याण कार्यक्रमों के बड़े नेटवर्क के लिए सहायता प्रदान करता है।

गृह कल्याण केंद्र (बाहरी वेबसाइट जो एक नई विंडों में खुलती हैं) (जीकेके) एक कल्याण सोसाइटी है जो गृह मंत्रालय (बाहरी वेबसाइट जो एक नई विंडों में खुलती हैं) के तत्वावधान में स्थापित किया गया है और कार्मिक, लोक शिकायत तथा पेंशन मंत्रालय (बाहरी वेबसाइट जो एक नई विंडों में खुलती हैं) के अधीन कार्य करता है। केंद्र का मुख्य उद्देश्य जरूरतमंद कर्मचारियों और उनके ऊपर आश्रितों को सहायता देना है, विशेषकर महिलाओं और बच्चों को, जो कम आय वर्ग से संबंध रखते हैं। यह अस्थायी पुनर्वास के लिए उन्हें प्रशिक्षण प्रदान करके और खाली समय के दौरान शिल्प गतिविधियों का अनुभव प्रदान करके उनकी वित्तीय और मनोवैज्ञानिक आवश्यकताओं की पूर्ति करने में सहायता करता है।

गतिविधियां:

जीकेके (बाहरी वेबसाइट जो एक नई विंडों में खुलती हैं) 44 समाज सदनों में (दिल्ली में 29 और दिल्ली के बाहर 14; मुंबई में 4, चेन्नई में 4, बेंगलुरू में 3, नागपुर में 2 और कोलकाता, जयपुर, गाजियाबाद, फरीदाबाद और देहरादुन में एक-एक), दिल्ली में 14 कल्याण केंद्रों और दिल्ली से बाहर 10 कल्याण केंद्रों में निम्नलिखित गतिविधियां संचालित करता है :

डाउनलोड प्रपत्र

स्रोत: राष्‍ट्रीय पोर्टल विषयवस्‍तु प्रबंधन दल, द्वारा समीक्षित: 29-04-2011