विदेश
यह पृष्‍ठ अंग्रेजी में (बाहरी वेबसाइट जो एक नई विंडों में खुलती हैं)

भारतीय लोग

यह खंड भारतीय मूल के लोगों को उनकी जन्‍मभूमि के साथ जोड़ने का प्रयास करता है। भारत सरकार भारतीय लोगों के महत्‍व को समझती है जो भारत से दूर रहते हुए भी उसे वैश्विक मंच पर चमकाते हैं।

डायस्‍पोरा ग्रीक मूल का शब्‍द है जिसका अर्थ है बीज विखेरना या बुआई करना। यह उन लोगों के संदर्भ में प्रयुक्‍त होता है जो रोजगार, व्‍यापार या किसी अन्‍य प्रयोजन से अपनी जन्‍मभूमि छोड़ देते और विश्‍व के दूसरे भागों में निवास करते हैं।

भारतीय डायस्‍पोरा एक जेनेरिक शब्‍द है जो उन लोगों को संबोधित करने के लिए प्रयुक्‍त होता है जिन्‍होंने भूभागों से उत्‍प्रवास किया है जो वर्तमान में भारत गणतंत्र की सीमा के भीतर हैं। इनमें एनआरआई (अनिवासी भारतीय) और पीआईओ (भारतीय मूल के व्‍यक्ति) आते हैं। भारतीय डायस्पोरा 30 मिलियन से अधिक होने का अनुमान हैं। भारत सरकार भारतीय डायस्‍पोरा के महत्‍व को समझती है क्‍योंकि इसने भारत को आर्थिक, वित्तीय और वैश्विक लाभ पहुंचाया है।

आज भारतीय डायस्‍पोरा विश्‍व की संस्‍कृति में एक महत्‍वपूर्ण और कुछ अर्थों में विशिष्‍ट बल बनाता है। इस अनुभाग में भारत सरकार द्वारा भारतीय डायस्‍पोरा को प्रस्‍तावित विभिन्‍न योजनाओं और प्रोत्‍साहनों का ज्ञान गहराई से देते हुए उसकी बोधात्‍मक आवश्‍यकताओं को पूरा किया गया है

वीजा, पासपोर्ट, परमिट, अद्यतन घटनाक्रम और आदि से संबंधित सूचना के लिए इसे सर्फ करें।

स्रोत: राष्‍ट्रीय पोर्टल विषयवस्‍तु प्रबंधन दल, द्वारा समीक्षित: 23-04-2012