नागरिक

यह पृष्‍ठ अंग्रेजी में (बाहरी वेबसाइट जो एक नई विंडों में खुलती हैं)

मानसिक विकार

मानसिक बीमारी अथवा मानसिक विकार मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य की एक स्थिति है जिसे असामान्‍य अथवा दुरनुकूली (मैल एडेप्टिव) निर्धारित किया जाता है और जिसमें महत्‍वपूर्ण व्‍यथा अथवा असमर्थता अन्‍तर्ग्रस्‍त है। मानसिक विकार कई किस्‍म के हो सकते हैं। कुछ बड़े मानसिक विकार हैं भय (फोबिया), मनोदशा विकार (मूड डिस्‍आर्डर), ज्ञानात्‍मक विकार (काग्निटिव डिस्‍आर्डर), व्‍यक्तित्‍व विकार, खंडित मनस्‍कता (शाइज़ोफ्रेनिया) और द्रव्‍य संबंधी विकार (सबस्‍टैंस रिलेटेड डिस्‍आर्डर) जेसे मद्यसार (ऐलकोहाल) पर निर्भरता।

1982 में भारत सरकार द्वारा राष्‍ट्रीय मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य कार्यक्रम (बाहरी वेबसाइट जो एक नई विंडों में खुलती हैं) (एन एम एच पी) प्रारम्‍भ किया गया। इस कार्यक्रम का मुख्‍य उद्देश्‍य, देश में मानसिक रोगियों की बढ़ रही संख्‍या के लाभ के लिए, मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल के लिए उपलब्‍ध आधारभूत रूपरेखा का विस्‍तार करना था।

राष्‍ट्रीय मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य कार्यक्रम के महत्‍वपूर्ण लक्ष्‍य हैं:

  • यह सुनिश्चित करना कि प्रक्षेपित (प्रोजेक्‍टेड) भविष्‍य में प्रत्‍येक के लिए न्‍यूनतम मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल उपलब्‍ध है और उनकी पहुंच में है।
  • लोगों के द्वारा, मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी ज्ञान का उपयोग, सामान्‍य स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल और सामाजिक विकास के लिए करने हेतु, प्रोत्‍साहित करना।
  • मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं के विकास और स्‍वयं सहायता संबंधी प्रयासों को प्रोत्‍साहित करने के लिए सामाजिक सहभागिता को बढ़ावा देना।

भारत में मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य, मूलभूत स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल व्‍यवस्‍था का हिस्‍सा है। कुछ जिलों में मानसिक विकारों से ग्रस्‍त लोगों के लिए सामुदायिक देखभाल की सुख-सुविधाएं हाथ में ली गई हैं। इनके अलावा कई गैर सरकारी संगठन मानसिक विकारों वाले रोगियों के लिए विभिन्‍न प्रकार की सेवाएं उपलब्‍ध कराते हैं।

जिला मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य कार्यक्रम (बाहरी वेबसाइट जो एक नई विंडों में खुलती हैं) का प्रयास ग्रामीण और समाज के वंचित वर्गों तक मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल की सुविधा पहुंचाना है। वर्तमान में देश के विभिन्‍न भागों में 40 से अधिक मानसिक चिकित्‍सालय काम कर रहे हैं जो कि मानसिक विकारों से ग्रस्‍त लोगों के कल्‍याण एवं इलाज के लिए काम कर रहे हैं।

अधिक विवरण के लिए नीचे सूचीबद्ध संपर्कों पर क्लिक करें:

स्रोत: राष्‍ट्रीय पोर्टल विषयवस्‍तु प्रबंधन दल